Copy This code has the following

शिशु के सिर में डेंड्रफ के कारण और 5 तरह के बचाव

जब भी हमारे बेबी को कोई भी प्रॉब्लम होती है तो माता हो या पिता दोनों बहुत ज्यादा परेशां हो जाते है, शिशु की तकलीफ कोई भी माता-पिता बरदास्त नहीं कर पातें है। ऐसे में नवजात शिशु के सिर में डेंड्रफ हो तो बहुत ज्यादा हम परेशान हो जाते है। आज हम इसके बारे में पुरे विस्तार में जानेंगे।

शिशु के सर पर डेंड्रफ को क्रेडल कैप भी कहते है। इसमें सर में कुछ पपड़ी जैसी निकलती है जो समय के साथ ठीक भी हो जाती है पर कुछ बच्चो में यह समस्या बढ़ती ही जाती है और विकराल रूप भी ले लेती है जिसकी वजह से रुसी सिर्फ सर तक ही नहीं forehead, नाक, बगल, आँखों के आस पास या फिर डायपर एरिया में भी होने लगती है।

दिखने में कैसा होता है

यह दिखने में पीला या भूरा रंग का होता है जिसके सूखने पर हम से आसानी से झाड़ कर निकल सकते है। जय पर यह होता है वह की स्किन लाल रंग की हो जाती है। बालो में होने की वजह से कभी कभी इसमें बाल भी चिपक जाते है जिसकी वजह से घाव होने का भी खतरा बना रहता है।

शिशु में कब होती है रुसी

वैसे तो ऋषि होने का कोई समय नहीं होता है पर यह आठ महीने से छोटे बच्चो में ज्यादा देखि जाती है। यह शिशु के जन्म के कुछ दिन के बाद ही निकलने शुरू हो जाते है औरसही इलाज न मिलने की वजह से कही महीनो तक होते ही रहते है पर डरने की बात नहीं है इसमें किसी भी तरह की खुजलाहट नहीं होती है।

शिशु के सिर में डेंड्रफ होने के कारण

डेंड्रफ या रुसी होने के कारण हो सकते है

किसी भी तरह का ट्रटमेंट करने से पहले हमें ये जानना जरुरी है की सर में रुसी होने के क्या क्या कारण है तभी सही इलाज हो सकता है। आइये हम जानते है।

  • गर्भावस्था में गर्भ हॉर्मोन जो शिशु में रह जाता है जिसकी वजह से शिशु के सिर में डेंड्रफ होती है। जैसे जैसे शिशु बड़ा होता है और हॉर्मोन काम होने लगते है वैसे वैसे ये अपने आप ठीक हो जाती है।
  • अगर परिवार में किसी भी सदस्य को डेंड्रफ की परेशानी है तो संभव है की शिशु में भी ये प्रॉब्लम हो जाए।
  • शिशु को ऐसे प्रोडक्ट का इस्तेमाल करना जिसमे हार्स केमिकल हो, उसकी वजह से शिशु में रुसी की परेशानी हो जाती है।
  • शिशु की स्कैल्प हमेशा ही ड्राई रहना भी ऋषि का एक कारण हो सकता है।

सिर में डेंड्रफ को ठीक करने का घरेलु उपाय –

यहाँ मै कुछ घरेलू उपाय बता रही हूँ जिसको सही तरीके से use करने पर आप शिशु के सर में होने वाले डेंड्रफ को ठीक कर सकते है –

  • ताजे नीम की पत्तियों को अच्छे से धो कर उसे अच्छे से उबाल ले और ठंडा कर ले। जब पानी ठंडा हो जाए तो उसी पानी से शिशु को नहलाये। रेगुलर ऐसा करने से शिशु के रुसी की प्रॉब्लम ख़त्म हो जाएगी।
  • शिशु के बालो को हमेशा बेबी शैम्पू से ही धोये और मुलायम ब्रश वाले कंधी से बालो को हमेशा कोंब करें जिससे बच्चो के सर में जो रुसी है वो क्लीन हो जाए।
  • हमेशा शिशु के बालो में आयल मसाज करते रहे जिससे स्कैल्प की रुसी मुलायम हो जाए और बालो से कोंब करते ही निकल जाए।
  • अपने शिशु के बालो के हिसाब से दही ले और उसमे एक चम्मच नीबू का रस ले अच्छे से मिलाये और बच्चे के स्कैल्प में लगाए 5 मिनट के लिए रहने दे फिर धो दे। ऐसा वीकली एक बार करना है इससे धीरे धीरे रुसी ख़त्म हो जायेंगे।
  • शिशु को ह्यदृदे रखने की कोसिस करें जिससे बेबी अंदर से क्लीन रहें।

कुछ जानने योग्य बातें –

शिशु के सिर में डेंड्रफ या क्रेडल कैप ठीक हो जाता है पर ज्यादा समय तक ठीक न हो तो डॉक्टर को जरूर दिखाए।

अगर आपके शिशु में किसी तरह की स्किन की कोई प्रॉब्लम हो तो आप खुद से कोई इलाज न करें। बेहतर होगा डॉक्टर को दिखाए।

रुसी या क्रैडल कैप खुरदुरा होने के वजह से हो सकता है शिशु को खुजली हो और वो रगड़ना शुरू कर दे पर ऐसा होने से आपको रोकना है नहीं तो उस जगह से खून आने की संभावना होती है।

जब शिशु के सर में रुसी की जगह पर लाल दिखे या फिर सूजन दिखे तो जितनी जल्दी हो डॉक्टर को दिखाना चाहिए।

ज्यादा जानकारी के लिए ये वीडियो जरूर देखे –

https://www.youtube.com/watch?v=Bsj5w2GVArI

इसे भी पढ़े – नवजात शिशु के नाभि की देखभाल कैसे करें | New Born Baby Navel Care

Leave a comment

%d bloggers like this: